METABOLIC DIET CHART FOR TYPE-2 DIABETES

Share
  • Document
  • 1 MB
1,000
Description

इस मेटाबोलिक डाइट चार्ट में उचित मात्रा में फैट, शुगर, कार्बोहायड्रेट और आवश्यक विटामिन और मिनरल होता है जो पैंक्रियास के चारों ओर जमा चर्बी पर हमला कर उसे नष्ट कर देता है. यह डाइट चार्ट अपनेआप में एक उपचार है. जिसका अगर ठीक तरह से आपने पालन किया तो आपको धीरे-धीरे किसी भी दवा जरुरत नहीं पड़ेगी.

अपने शुगर लेवल को कण्ट्रोल करने के लिए आप जो तरह-तरह की दवाइयाँ लेते हैं, उससे आपके शरीर को आर्टिफीसियल इन्सुलिन प्राप्त होता है. यह बाहरी इन्सुलिन आपके ब्लड से ग्लूकोज का लेवल तो घटा देता है. लेकिन डायबिटीज के मुख्य कारण कोशिकाओं के चारों ओर जमा चर्बी को कुछ नहीं कर पाता.

इसलिये जब आप दवा लेना बंद कर देते हैं, तो आपका ब्लड शुगर काफी बढ़ जाता है. अर्थात रोज दवा लेना कोई स्थायी हल नहीं है. बल्कि लम्बे समय तक दवा लेकर डायबिटीज के लक्षण को दबाने के बाद आप कई दुष्परिणामों (जैसे- अंधापन, किडनी फेलियर इत्यादि) के चंगुल में फंस जाते हैं.

इस मेटाबोलिक डाइट चार्ट को छः महीने तक फॉलो करने का मतलब है कि आपकी कोशिकाएं पूरी तरह से स्वस्थ हो जायेगी. अर्थात आपकी पैंक्रियास के चारों ओर जमा चर्बी जल जायेगी. फिर आपकी पैंक्रियास स्वस्थ हो जायेगी और पर्याप्त मात्रा में इन्सुलिन बनाकर आपके ग्लूकोज लेवल को नार्मल करने लगेगी.
आपको सरल निर्देशों के द्वारा इस डाइट चार्ट का उपयोग करना सिखाया जायेगा.

अगर आप समोसे, बिस्कुट और भुजिया खाना कुछ दिनों के लिए छोड़ सकते हैं तो आप इसे कर सकते हैं.

साथ ही साथ आप उन महँगी दवाइयाँ और इन्सुलिन को फेंकने के योग्य बन पायेंगे क्योंकि आप अपने शरीर को एक बार फिर से खुद ब्लड ग्लूकोज को नियंत्रित करना सीख जायेंगे.

जैसा की मैं पहले ही आपको बता चूका हूँ कि जब आपकी मेटाबोलिज्म स्वस्थ हो जायेगी, आप इस बीमारी के लिए वापस लौटने के सारे दरवाजे बंद कर देंगे.

आप हमेशा के लिए इसे भगा देंगे.

और सबसे अच्छी बात यह है कि जब इन चीज़ों के द्वारा आपके इन्सुलिन अवशोषण दर में वृद्धि हो रही होगी, तो आपकी चर्बी भी घटेगी, आपको अधिक उर्जा की प्राप्ति होगी. और आपको हृदयरोग होने का खतरा भी कम हो जाएगा. मेटाबोलिज्म को स्वस्थ बनाने का यह तरीका अकेले ही आपकी ज़िन्दगी बदल सकता है.