प्राणाकर्षण मेनटरिंग कार्यक्रम ( प्राणाकर्षण; एक ऐसी प्राचीन विधि जिसकी शक्ति शरीर एवं मन की समस्याओं का सार्थक समाधान है)

Share
  • Ships within 12 days
₹ 2,775
Description

केवल साधकों हेतु।
इसके अंतर्गत आपको क्या प्राप्त होगा ;
1. प्राणाकर्षण पुस्तक - 450 पृष्ठ (लगभग A5 पेज साइज आकार )
2. ऑडियो बुक (विशेष: साधकों को प्राण तत्व पर अधिक प्रकाश देने हेतु कुछ लेख भी इस पुस्तक का भाग हैं परन्तु वह लेख ऑडियो बुक का भाग नहीं हैं)
3. प्राणाकर्षण अर्जन हेतु निर्देशित ध्यान ऑडियो (40 मिनट)
4. प्राणाकर्षण अर्जन हेतु निर्देशित ध्यान ऑडियो (10 मिनट)
5. प्राणाकर्षण अर्जन हेतु निर्देशित ध्यान ऑडियो (3 मिनट)
6. प्राण संचय हेतु निर्देशित ध्यान ऑडियो
7. प्राण निर्देशन हेतु निर्देशित ध्यान ऑडियो (शरीर अंग)
8. प्राण निर्देशन हेतु निर्देशित ध्यान ऑडियो (संकल्प शक्ति)
9. प्राण निर्देशन हेतु निर्देशित ध्यान ऑडियो (मस्तिष्क क्षमताएं)
10. प्राण निर्देशन हेतु निर्देशित ध्यान ऑडियो ((आशंकित मन से मुक्ति)
11. 5 ग्रुप मेन्टरिंग सेशन
12. 30 दिन तक ईमेल द्वारा इस साधना सम्बंधित प्रश्नो पर परामर्श
पुस्तक प्राप्त करने से पूर्व दूसरे नंबर का बिन्दु पहले अवश्य पढ़ें महत्वपूर्ण सन्देश पढ़े;

  1. इस प्रशिक्षण के द्वारा प्रतिभागियों से प्राप्त उनके अनुभव के आधार पर यह कहा जा सकता है की बड़ी संख्या में प्रतिभागियों ने शारीरिक एवं मानसिक स्तर पर अनेक प्रकार की आधी - व्याधि को ठीक किया है।

  2. पुस्तक प्राप्त करने से पूर्व महत्वपूर्ण सन्देश पढ़े ;अगर आप ब्रह्म मुहूर्त मॉनिटरिंग कार्यक्रम के पंजीकृत साधक नहीं है और आपने न्यूनतम 60 दिन की यह ध्यान साधना नहीं की है तो कृपया प्राणाकर्षण कार्यक्रम हेतु पुस्तक नहीं खरीदें, अन्यथा हम पुष्टि करने के उपरान्त उपरोक्त शर्त न पूरी होने पर आपकी राशि आपको वापस लौटा देंगे और इस कार्यक्रम में प्रवेश नहीं दे पाएंगे।

  3. यह पुस्तक 5 मेनटरिंग Zoom (Mentoring) सेशन के साथ उपलब्ध है।
    यह ध्यान रहे की यह 5 मेनटरिंग सेशन हैं , मॉनिटरिंग नहीं , दोनों में भेद यह है की मेनटरिंग में अध्यापक प्रत्यक्ष हस्तक्षेप के द्वारा साधक की प्रगति को गति प्रदान करने हेतु सहायता प्रदान करेंगे। यह 5 मेनटरिंग सेशन प्राणाकर्षण की सामान्य कक्षा से सर्वथा भिन्न हैं। समस्त मेंटरिंग सेशन सामूहिक स्वरूप में ही आयोजित रहेंगे।
    प्राणाकर्षण पर यह पुस्तक उन साधकों को प्राण तत्व के उस ज्ञान से अवगत कराती है जिसका समबन्ध प्राण तत्व के आकर्षण से है।