जीत आपकी (You Can Win) - शिव खेड़ा

Share
  • Document
  • 76 MB
45
Description

सफलता का मतलब सिर्फ असफल होना नहीं है, बल्कि सफलता का सही अर्थ है अपने असली म़कसद को पाना। इसका मतलब है पूरा युद्ध जीतना, न कि छोटी-मीटी लड़ाईयाँ जीतना।

आप ऐसे लोगों से मिले ही होंगे जो अपनी ज़िंदगी बेमक़सद गुज़ार रहे हैं। ऐसे लोग क़िस्मत के रास्ते से जो भी पाते हैं, उसे ही क़बूल कर लेते हैं। चंद लोग ही होते हैं जिन्हें क़ामयाबी तुक्के से मिल जाती है, पर ज़्यादातर लोग नाखुशी और हताशा में ही जिंदगी गुजार देते हैं।

यह किताब ऐसे लोगों के लिए नहीं है, जिनमें क़ामयाबी हासिल करने के लिए न तो पक्का इरादा होता है, न ही इसके लिए वे वक्त निकालते हैं और न ही क़ामयाब होने के लिए कोशिश करते हैं। यह किताब आपके लिए है। सीधी-सी बात है कि आप इस किताब को पढ़ रहे हैं। जिससे ज़ाहिर होता है कि आप अपनी ज़िंदगी को और भी बेहतर और ख़ुशहाल बनाना चाहते हैं।

आपकी क़ामयाबी के रास्ते में यह किताब मददगार साबित हो सकती है।

यह किताब किस क़िस्म की है?

एक नज़रिए से देखा जाए तो यह निर्माण पुस्तिका है। यह क़ामयाबी के लिए जरूरी औजारों के बारे में बताती है और एक ख़ुशहाल और भरपूर जिंदगी का नक्शा तैयार करती है।

दूसरे नज़रिए से देखें तो यह लज़ीज खाना बनाने की रेसिपी बतानेवाली किताब है। जिस तरह खाना बनाते समय उसमें इस्तेमाल होनेवाली हर सही चीज़ को सही मात्रा में मिलाया जाए, तो ही खाना बढ़िया बनता है, उसी तरह यह किताब में उन उसूलों की बात की गई है, जिनका सही मात्रा में इस्तेमाल आपको क़ामयाबी की हर ऊँचाई तक पहुँचा सकता है।

लेकिन सबसे बढ़ कर यह एक गाइडबुक है। यह हर क़दम पर क़ामयाबी का सपना देखने से लेकर उन सपनों को सच करने तक के रास्ते बताती है।

जीतने वाले कोई अलग काम नहीं करते,
वे हर काम अलग ढ़ग से करते हैं।

Total Pages: 477