Chapter 10 उत्पादक का संतुलन

Share
  • Document
  • 399 KB
10
Description

Chapter 10 उत्पादक का संतुलन
Micro Economics, Class-12th & 11th

संतुलन या साम्य या साम्यावस्था (इक्विलिब्रिअम) से तात्पर्य किसी निकाय की उस अवस्था से है जब दो या अधिक परस्पर विरोधी वस्तुओं या बलों के होने पर भी 'स्थिरता' (अगति) का दर्शन हो। बहुत से निकायों में साम्यावस्था देखने को मिलती है।